CTET Child Development & Education Practice Set 03: परीक्षा से पहले अवश्य अध्ययन करें, इस महत्वपूर्ण प्रश्नों का

CTET Child Development & Education Practice Set 03: सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट (CTET) परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया जल्द शुरू होगी. संभावना जताई जा रही है कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) जल्द ही परीक्षा के लिए डिटेल्ड नोटिफिकेशन जारी कर सकता है. सीबीएसई सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट (CTET) परीक्षा देश भर के परीक्षा केंद्रों पर 20 भाषाओं में आयोजित की जाएगी. यह एग्जाम दिसंबर, 2022 में होगा.

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा एक नेशनल लेवल का एट्रेंस एग्जाम है. सीटीईटी परीक्षा साल में दो बार आयोजित की जाती है. इस परीक्षा के तहत 2 पेपर होते हैं. पेपर I कक्षा 1 से कक्षा 5 तक और पेपर II कक्षा 6 से कक्षा 8 तक के शिक्षक पदों पर भर्ती के लिए होता है. जबकि, कक्षा 1 से 8 तक शिक्षक पदों पर भर्ती के लिए दोनों पेपर देना अनिवार्य है. CTET Child Development & Education प्रैक्टिस सेट 3 की मदद से आप अपनी तैयारी को और बेहतर बना सकते हैं, एवं अपनी तैयारी का आकलन भी कर सकते हैं. CTET Child Development & Education Practice Set 3 का अध्ययन करने से आपको सामाजिक अध्ययन के प्रश्नों को हल करने में मदद मिलेगी. इसके साथ ही आप CTET Child Development & Education Practice Set 4 का भी अध्ययन कर सकते हैं.

CTET Child Development & Education Practice Set 03
CTET Child Development & Education Practice Set 03

CTET बाल विकास एवं शिक्षण प्रैक्टिस सेट 03

प्रश्न. टेलीविजन शिक्षा देने का किस प्रकार का साधन है?

  • औपचारिक
  • अनौपचारिक
  • निरोपचारिक
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 2

प्रश्न. अन्तर्राष्ट्रीय सद्भावना का अर्थ है?

  • विश्व नागरिकता का विकास करना
  • गुट निरपेक्ष नीति अपनाना
  • 1 तथा 2 दोनों
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 1

प्रश्न. शिक्षा का उद्देश्य व्यक्ति का मानसिक विकास है इसे आप शिक्षा का कौन-सा उद्देश्य कहेंगे?

  • सामाजिक
  • व्यक्तिगत
  • 1 तथा 2 दोनों
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 3

प्रश्न. शिक्षा में कार्यानुभव का क्या अर्थ है?

  • व्यावसायीकरण
  • करके सीखना
  • 1 तथा 2 दोनों
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 3

प्रश्न. शिक्षा में 10 + 2 + 3 की योजना किस आयोग द्वारा प्रस्तुत की गई?

  • कोठारी आयोग
  • माध्यमिक शिक्षा आयोग
  • प्राथमिक शिक्षा आयोग
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 1

प्रश्न. बालक का शारीरिक विकास होता है?

  • दौड़ने से
  • बैडमिन्टन खेलने से
  • फुटबॉल खेलने से
  • उपर्युक्त सभी से

उत्तर: 4

प्रश्न. बालक का मानसिक विकास होता है?

  • लेखन से
  • पठन से
  • सोने से
  • वाद-विवाद करने से

उत्तर: 3

प्रश्न. शिक्षा में सामाजिक विकास है?

  • स्काउड गाइडिंग
  • निर्धनता निवारण
  • सामुदायिक सेवा
  • उपर्युक्त सभी

उत्तर: 4

प्रश्न. अवकाश काल में व्यावसायिक नहीं है?

  • माचिस बनाना
  • शहद बनाना
  • मोमबत्ती बनाना
  • निरक्षरता उन्मूलन

उत्तर: 4

प्रश्न. अवकाश शिक्षा में राष्ट्रीय विकास नहीं है?

  • किसानी
  • वादन
  • शोध करना
  • उद्योगों में संलग्नता

उत्तर: 2

प्रश्न. अवकाश काल में नैतिक एवं चारित्रिक विकास नहीं है?

  • दीन-दुखियों की सेवा
  • पर्यावरण जागरूकता
  • साहित्य
  • जन-नियंत्रण

उत्तर: 3

प्रश्न. किसने अवकाश काल के दुरुपयोग के महत्व को ज्ञानात्मक, मनोवैज्ञानिक एवं के अनुरूप समझते हुए मानव जीवन की क्रियाओं को स्थान दिया है?

  • मैकेन्जी
  • प्लेटो
  • अरस्तू
  • स्पेन्सर

उत्तर: 4

प्रश्न. “शिक्षा का उद्देश्य ज्ञान का अर्जन है।” यह विचार है?

  • बेकन का
  • अरस्तू का
  • प्लेटो का
  • इन सभी का

उत्तर: 4

प्रश्न. “शिक्षा पूर्ण जीवन है।” यह कथन है?

  • अरस्तू का
  • स्पेन्सर का
  • काण्ट का
  • जॉन डीवी का

उत्तर: 2

प्रश्न. “शैक्षिक उद्देश्यों को बालक द्वारा किस सीमा तक प्राप्त किया गया है, यह जानने की प्रक्रिया को ही मूल्यांकन कहते हैं।” मूल्यांकन की यह परिभाषा किसकी है?

  • इंडाकार की
  • गिलफोर्ड की
  • चेम्सफोर्ड की
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: ?

नोट – इस प्रश्न का सही जवाब कमेंट सेक्शन में जरूर दें.

Leave a Comment